Wednesday, November 16, 2016

एस्टेट मैनेजर्स की नियुक्ति ने बदली स्कूलों की तस्वीर

सरकार बनने के बाद मैंने स्कूलों में सरप्राइज इंस्पेक्शन शुरू किया। तब वहां मेरा सामना स्कूलों की सबसे बड़ी समस्या से हुआ। वह थी गंदगी। कैंपस में गंदगी। क्लासरूम्स और लैब्स में गंदगी। कभी झाड़ू लगा भी, तो कूड़ा क्लासरूम्स के कोनों में ही इकट्ठा कर दिया गया। क्लासरूम्स में लगे जाले। दीवारों पर पान और गुटखे की पीक। टूटे टॉयलेट। टूटे नल। कहीं दीवारों से उजड़ता प्लास्टर, तो कहीं टॉयलेट में दरवाजे नहीं। ज्यादातर स्कूलों के हालात ऐसे ही थे। इन सब व्यवस्थाओं देखरेख का जिम्मा प्रिंसिपल या वाइस-प्रिंसिपल या किसी सीनियर टीचर के पास होता था। जबकि ये उनका काम नहीं था। उनका काम था बच्चों को पढ़ाना।

इसलिए मैंने हर स्कूल में एक-एक एस्टेट मैनेजर की नियुक्ति करवाई। एस्टेट मैनेजर की नियुक्ति और इनको हटाने की जिम्मेदारी प्रिंसिपल को सौंपी गई। एस्टेट मैनेजर के पद पर ज्यादातर सेना इत्यादि से रिटायर्ड लोगों को काम मौका मिला।

इस कदम से स्कूल साफ-सुथरे रहने लगे। स्कूल में साफ-सफाई के साथ-साथ टॉयलेट, पीने का साफ पानी, बिल्डिंग का रखरखाव इत्यादि सब दुरुस्त हो गया। लेकिन इस पहल से सबसे ज्यादा राहत प्रिंसिपल, वाइस-प्रिंसिपल या सीनियर टीचर्स को हुई। उन्हें अपने काम यानी बच्चों की पढ़ाई पर फोकस करने का मौका मिला। इस तरह एक एस्टेट मैनेजर के आने से स्कूलों की तस्वीर बदलने लगी।

36 comments:

  1. Great work sir......
    I salute you to the great revolution in education.

    ReplyDelete
  2. Sir we are proud on you...keep doing good work.

    ReplyDelete
  3. Sir two year before I only like arvind in aap...
    But now you r role model..

    I respect u more than arvind..

    ReplyDelete
    Replies
    1. अरविंद जी को ज्वाइन करने वाले सबसे पहले व्यक्ति मनीष जी ही थे, कई साल पहले।

      Delete
  4. sir behtar hota kisi youth ko job dete aap....

    ReplyDelete
    Replies
    1. Job should be given to a deserving individual and must not be denied to a person on the basis of his or her age.

      Delete
  5. great work sir ..my father also got opportunity to be one of them..Rtd. Capt. Baljeet Singh.

    ReplyDelete
  6. Sir me apka dihan mustafbad vidhansabba ke school pr.wah bhut dikat h plz Kuch kre

    ReplyDelete
  7. Sir, great initiative . Are we also doing something towards child friendly environment in our government schools ?0

    ReplyDelete
  8. good job sir...keep it up....we are always with AAP....god bless AAP

    ReplyDelete
  9. बदलाव तो हुआ है पर अभी भी बहुत से ऐसी चीज़े है जिनका आपको पता नही है स्कूलों में भ्रस्टाचार अभी भी हो रहा है आपकी नाक के तले । ज्यादतर स्कूलों में एस्टेट मैनेजर और प्रिंसिपल मिल कर खूब पैसा खा रहे है ।annual day हो या magzene ,या out station tour हो सभी में बच्चो का हिस्सा ये खा जाते है

    ReplyDelete
  10. बदलाव तो हुआ है पर अभी भी बहुत से ऐसी चीज़े है जिनका आपको पता नही है स्कूलों में भ्रस्टाचार अभी भी हो रहा है आपकी नाक के तले । ज्यादतर स्कूलों में एस्टेट मैनेजर और प्रिंसिपल मिल कर खूब पैसा खा रहे है ।annual day हो या magzene ,या out station tour हो सभी में बच्चो का हिस्सा ये खा जाते है

    ReplyDelete
  11. Honourable Minister,Regarding the Vocational education you have done great work.However the Vocational Teacher who is qualified gets lesser salary than the Lab Assistant and even Peon.The Tripatial Agreement companies pay them salaries as per their wishes and Vocational Trainers gets exploited.Pls look into this sir.

    ReplyDelete
  12. Honourable Minister,Regarding the Vocational education you have done great work.However the Vocational Teacher who is qualified gets lesser salary than the Lab Assistant and even Peon.The Tripatial Agreement companies pay them salaries as per their wishes and Vocational Trainers gets exploited.Pls look into this sir.

    ReplyDelete
  13. Great work.sab se achhi baat Jo mujhe lagi vo ye hai ke principal aur baaki teachers apna dhyaan students ko achhi tarah padhane mein laga rahe hai.

    ReplyDelete
  14. Great work.sab se achhi baat Jo mujhe lagi vo ye hai ke principal aur baaki teachers apna dhyaan students ko achhi tarah padhane mein laga rahe hai.

    ReplyDelete
  15. Undoubtedly this is a great step towards your educational reforms agenda.sir salary of 25000 needs a revision as you have done for guest teachers. Regards birendra yadav Dwarka.

    ReplyDelete
  16. Undoubtedly excellent Job done in education system after a very long time. Big Salute to Aam Admi Party.

    ReplyDelete
  17. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
    Replies
    1. सर जैसा की आपको पहले भी अबगत करा चुका हूँ क्योंकि वहाँ कंप्यूटर टीचर और लैब्स की व्यवश्था विल्कुल ठीक नही है, जो कम्पनीज के कंप्यूटर लैब्स है वो केवल दिखाने के लिए है, कृपया इसपर ध्यान देने की विशेष जरूरत है, और आपको भी अच्छे से पता है।

      Delete
  18. i always respect you sir ,you are great,i think you can sucessfully do this & you had done . my wishes are with you you hav to do best job.

    ReplyDelete
  19. sir please take action on sursurry admission & specially on pvt schools admissions.

    ReplyDelete
  20. Very well done! Sir.I really appreciate this fact sir.

    ReplyDelete
  21. उम्मीद है कि आपने उन्हें एक हैंडसम सैलरी पे नियुक्त किया होगा?

    ReplyDelete
  22. उम्मीद है कि आपने उन्हें एक हैंडसम सैलरी पे नियुक्त किया होगा?

    ReplyDelete
  23. Good job and congrats for you dedication to school improvement but it is still unclear how estate manager will abide to his/her duties and will not indulge in corruption with cooperation from the principals.

    ReplyDelete
  24. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete